आंखें इंसानी शरीर का सबसे नाज़ुक हिस्सा होती हैं. अगर व्यक्ति आंखों की सही तरीके से देखभाल ना करे तो उसे कई प्रकार की कठिनाइयों का सामना करना पड़ सकता है. आंखों की केयर ना करने पर अनेकों हेल्थ प्रोब्लम्स हो सकते हैं. लेकिन कुछ समस्याएं ऐसी भी हो सकती हैं जो किसी हेल्थ कंडीशन या बीमारी को दर्शाती हैं. अगर व्यक्ति समय रहते इन संकेतों को पहचान ले तो वह आंखों की गंभीर बीमारियों से बच सकता है. अधिकतर लोग आंखों में हो रही समस्या को गंभीरता से नहीं लेते. आंखों के साथ बरती गयी ज़रा सी भी लापरवाही जानलेवा साबित हो सकती है. नेत्र विशेषज्ञों के मुताबिक आंखों में आये कुछ ख़ास बदलाव किसी बीमारी या हेल्थ संबंधित प्रॉब्लम की तरफ़ इशारा करते हैं. ज़रा सा भी बदलाव लगने पर डॉ. के पास जरूर जाना चाहिए.

ये बदलाव दिखे तो तुरंत जाएं डॉक्टर के पास

  • आंख से धुंधला दिखाई देना
  • पुतली का रंग सफ़ेद होना
  • आंखों का पीला होना
  • आंखों की पलकों पर धब्बे
  • पूरी आंख सफ़ेद होना
  • आंखों का लाल होना
  • आंखों में सूजन लगना

पर कई बार व्यक्ति अपनी लापरवाही के कारण ठीक-ठाक आंख खराब कर बैठता है. वह अनजाने में कई काम ऐसे कर देता है जो उसकी आंखों को नुकसान पहुंचाते हैं. उनके लिए ये गलतियां खतरनाक साबित हो सकती हैं. आज हम उन्हीं गलतियों में से एक सबसे कॉमन और महत्वपूर्ण गलती की बात करेंगे. आजकल हर व्यक्ति के पास स्मार्टफोन मौजूद है और वह घंटों इसका इस्तेमाल करता है. यह जानते हुए कि स्मार्टफोन का ज्यादा इस्तेमाल करना आंखों को कितना नुकसान पहुंचाता है इसके बावजूद वह इसका इस्तेमाल करते हैं. लेकिन सबसे ज्यादा खतरा उस वक्त होता है जब व्यक्ति अंधेरे में मोबाइल का इस्तेमाल करता है. लोग अक्सर रात को सोते समय मोबाइल फोन का ज्यादा इस्तेमाल करते हैं. दरअसल, अंधेरे में जब आप मोबाइल चलाते हैं तो आपकी नजरें एक ही जगह टिकी रहती हैं, जिस वजह से आंखों से पानी आने लगता है. आंखों से पानी निकलने पर ज्यादातर लोग उसे अपने गंदे हांथों से पोंछ देते हैं जो कि बिलकुल नहीं करना चाहिए. जो लोग ऐसा करते हैं उनकी आंखें सबसे पहले खराब होती हैं. इसलिए अंधेरे में कम से कम मोबाइल का इस्तेमाल करना चाहिए.

यदि आंसू निकले भी तो उसे साफ़ सूती कपड़े से पोछ लेना चाहिए. ऐसा करने से आपकी फोकस दूरी घट जाती है और नजर की रौशनी घटने लगती है. आंखों के थकने पर उनमें से आंसू निकलते हैं. इसके अलावा, जब कोई तेज़ रौशनी आपकी आंखों पर पड़ती है और आपकी आंखें उस तेज़ रौशनी को बर्दाश्त नहीं कर पातीं तो अपने आप आंखों से आंसू निकलने लगते हैं. यदि आपके साथ भी ऐसा होता है तो इसे हलके में ना लें. ये संकेत हैं जो बताते हैं कि आपकी आंखें जल्द खराब होने वाली हैं. यदि आप चाहते हैं कि आपकी आंखें लंबे समय तक ठीक रहे तो मोबाइल का ज्यादा इस्तेमाल करना छोड़ दें. खासकर रात को सोते वक्त तो इसका इस्तेमाल बिलकुल ना करें.

दोस्तों उम्मीद करते हैं कि आपको हमारा ये आर्टिकल पसंद आया होगा. पसंद आने पर लाइक और शेयर करना ना भूलें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here