आज के इस आर्थिक युग में ऐसा कौन सा व्यक्ति होगा जो धनवान नहीं बनना चाहता है। हर व्यक्ति की चाहत होती है कि उसके पास खूब सारा पैसा हो जिससे वह अपने जीवन की कई जरूरतों को पूरा कर सके। लेकिन सबके साथ ऐसा नहीं होता है। कई लोगों की किस्मत में धन होता ही नहीं है। वह चाहे कितनी भी मेहनत क्यों ना कर लें उन्हें जीवनभर धन के अभाव में ही जीना पड़ता है। कई बार इसके लिए व्यक्ति की कुंडली जिम्मेदार होती है तो कई बार वास्तुदोष।

जी हाँ वास्तुदोष भी किसी व्यक्ति को जीवनभर गरीब रहने पर मजबूर कर सकता है। वास्तुदोष की वजह से व्यक्ति को ना केवल धन-दौलत की कमी रहती है, बल्कि उसे जीवन में कई अन्य परेशानियों का भी सामना करना पड़ता है। लेकिन कुछ छोटे-छोटे वास्तु नियमों का ध्यान रखकर व्यक्ति वास्तुदोष से हमेशा के लिए बच सकता है। कई बार जानते हुए भी लोग वास्तु के इन नियमों को अनदेखा कर देते हैं। अगर आप भी उन्ही लोगों में से हैं तो आज ही अपनी इस आदत को बदल लें वरना जीवन में कई समस्याओं का सामना करना पड़ेगा।

घर हो या दुकान, वास्तु से जुड़ी कुछ बातें सभी लोगों को ध्यान में रखनी चाहिए। इससे आप वास्तुदोष से बचे रहेंगे और धन की देवी माता लक्ष्मी की आपके ऊपर कृपा भी बनी रहेगी। घर और दुकान या कार्यस्थल पर खिड़की और दरवाजों की संख्या सम में होनी चाहिए। इसके साथ ही दरवाजे और खिड़कियाँ हमेशा अन्दर की तरफ ही खुलनी चाहिए। वास्तुशास्त्र में दोषयुक्त खिड़की या दरवाजे होने पर उसके दोष को ख़त्म करने के उपाय भी बताये गए हैं। इन उपायों की मदद से घर, दुकान या कार्यस्थल पर होने वाले नुकसान से बचा जा सकता है।

खिड़की-दरवाजों से जुड़ी कुछ महत्वपूर्ण बातें:

*- घर में दरवाजे और खिड़की लगवाते समय इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि उनकी संख्या हमेशा सम में हो, यानी 2, 4, 6, 8, 10 आदि।

*- अगर घर में सम संख्या में दरवाजे या खिड़की ना हों तो उनका इस्तेमाल बंद कर देना चाहिए और वहां पर पर्दा लगा देना चाहिए।

 

*- घर के दरवाजे और खिड़कियाँ अगर अन्दर की तरफ खुलने वाले होते हैं तो यह वास्तु की दृष्टि से अच्छा माना जाता है।

*- घर या दूकान का गेट पूर्व या उत्तर की दिशा में होना शुभ माना जाता है। अगर ऐसा नहीं हो तो चिंता करने की कोई जरुरत नहीं है। मुख्य दरवाजे के बाहर स्वास्तिक या श्री गणेश का चित्र लगायें।

*- घर के मुख्य दरवाजे के पास तुलसी का पौधा अवश्य लगाना चाहिए। प्रतिदिन सुबह जल चढ़ाएं और शाम के समय दीपक जलाएं। ऐसा माना जाता है कि पूर्व या उत्तर दिशा में तुलसी लगाने से आत्मविश्वास बढ़ता है और धनलाभ भी होता है।

*- प्रतिदिन सुबह घर या दुकान में मुख्य दरवाजे के दोनों तरफ कुमकुम और हल्दी की बिंदी लगानी चाहिए। यह बहुत ही शुभ होता है और इससे नकारात्मक शक्तियां घर से दूर रहती हैं।

*- प्रतिदिन या सप्ताह में एक बार मुख्य दरवाजे के ऊपर अशोक के पत्तों से बनी हुई बंदनवार लगायें। इससे शुभ फल की प्राप्ति होती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here