सांप इस धरती पर डायनासोर के युग से ही है. इतने लंबे समय में हम सांपों के बारे में बहुत सी बातें जान चुके हैं. फिर भी सांपों की दुनिया आज भी रहस्यमयी नज़र आती है. कहते हैं कि सांप इस धरती पर 130 मिलियन साल से है. दुनिया में सांपों की लगभग 2500 से अधिक प्रजातियां पाई जाती हैं. इनमें से केवल 20 प्रतिशत प्रजातियां ही ज़हरीली होती हैं. भारत में सांपों की करीब 300 किस्में पाई जाती है. सांप के बारे में कहा जाता है कि वह किसी भी चीज़ को चबाकर नहीं खाते बल्कि सीधे निगल जाते हैं. वैसे तो सांप इंसानों पर हमला नहीं करते लेकिन यदि कोई उन्हें छेड़े या परेशान करे तो वह उन्हें छोड़ते भी नहीं. वहीं, कुछ सांप ऐसे भी होते हैं जो बिना मतलब भी इंसानों पर हमला कर देते हैं. इस पोस्ट में हम सांपों की बात इसलिए कर रहे हैं क्योंकि आज हम एक ऐसी खबर लेकर आये हैं जिसे सुनने के बाद आप सोच में पड़ जाएंगे. ये घटना जानने के बाद पूरे शहर के लोग हैरान हैं. आखिर क्या हुआ है ऐसा चलिए आपको बताते हैं.

ये है पूरा मामला

दरअसल, त्रिवेदीगंज क्षेत्र के भवनियापुर मजरे शिवनाम थाना लोनीकटरा निवासी लवकुश रावत की पत्नी राजकुमारी के साथ एक ऐसी घटना घटी जिसे जानकर हर कोई हैरान रह गया. जब दिन को अपना पूरा काम करने के बाद राजकुमारी आराम कर रही थी तभी घर में एक सांप आ गया. सांप ने सोती हुई राजकुमारी को डंस लिया. जब इस बात का पता राजकुमारी के घरवालों को पता चला तो वह तुरंत उसे लखनऊ के ट्रामा सेंटर ले गए. हॉस्पिटल में इलाज के दौरान उसकी मृत्यु हो गयी. डॉक्टर द्वारा मृत घोषित करने के बाद राजकुमारी के शरीर को परिजन घर लेकर आये. लेकिन जब परिजन उसकी अर्थी को उठाने लगे तभी कुछ ऐसा हुआ कि वहां पर मौजूद हर कोई हैरान रह गया.

अर्थी उठाते वक्त हुआ कुछ ऐसा

जब परिजन मृतका की अर्थी उठाने लगे तभी अचानक घर के अंदर से दो सांपों का जोड़ा आ गया. सांप राजकुमारी की अर्थी के पास आकर डट गए. जो भी व्यक्ति मृतका की अर्थी के पास जाने की कोशिश करता सांप उसे गुस्से से फुंकार मारने लग जाते. वह किसी को भी अर्थी के पास आने नहीं दे रहे थे. आखिर सांप ऐसा क्यों कर रहे थे ये किसी को नहीं पता था. वहीं, सांप के जोड़े को देखकर लोगों में दहशत भी फैल गयी थी. वह डर के मारे इधर-उधर भागने लगे थे. इसी बीच सांप का जोड़ा कही चला गया. लोगों ने पूरा घर छान मारा लेकिन सांप नहीं मिले. आखिर में लोगों ने थक हारकर सांपों को पकड़ने वाले लोगों को बुलाया. लेकिन हैरान करने वाली बात ये है कि वे लोग भी सांप को पकड़ नहीं पाए. बाद में मृतका का अंतिम संस्कार कर दिया गया. लेकिन लोगों को ये बात अब तक समझ नहीं आई है कि आखिर सांप ऐसा क्यों कर रहे थे. क्या सांपों का मृतका से कोई रिश्ता था या ये महज एक इत्तेफाक था.

दोस्तों, उम्मीद करते हैं कि आपको हमारा ये आर्टिकल पसंद आया होगा. पसंद आने पर लाइक और शेयर करना ना भूलें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here