साउथ इंडस्ट्री के मशहूर अभिनेता रजनीकांत की बात करें तो रजनीकांत आज लोगों के बीच किसी परिचय के मोहताज नहीं है। अपने अभिनय के बदौलत लाखों लोगों के दिलों में अपनी एक अलग पहचान कायम कर चुके अभिनेता रजनीकांत आए दिन अपने द्वारा की जाने वाली सामाजिक कार्यों की वजह से लोगों के बीच सुर्खियां बटोरते हैं। हाल के दिनों में ही एक ऐसा मामला सामने आया है जहां साउथ इंडस्ट्री के सुपरस्टार रजनीकांत ने एक 7 साल के बच्चे की तारीफ की। अब आप सोच रहे होंगे कि आखिर रजनीकांत ने उस छोटे से बच्चे की तारीफ क्यों की। तो चलिए बताते हैं आपको इसके बारे में विस्तार से-

सड़क पर मिला था पैसों से भरा पर्स

दरअसल ऐसा बताया जा रहा है कि हाल के दिनों में ही 7 साल के बच्चे यासीन को सड़क किनारे एक पर्स गिरा हुआ मिला था। उस पर्स में लगभग ₹50000 भी रखे थे। इतनी बड़ी रकम के पर्स में रखे होने के बावजूद यासीन ने बेईमानी करने के बजाए ईमानदारी का रास्ता चुना और उस पर्स को उसके मालिक तक पहुंचा दिया। जिसके बाद इस छोटे से बच्चे के द्वारा किए गए इस कार्य की सराहना लोगों के द्वारा की जाने लगी। ऐसा बताया जाता है कि इस घटना के बारे में सुनने के बाद साउथ इंडस्ट्री के सुपरस्टार रजनीकांत की उस बच्चे से काफी ज्यादा प्रभावित हुए। एक छोटे से बच्चे की ईमानदारी से प्रभावित होकर सुपरस्टार रजनीकांत ने न सिर्फ इस बच्चे की प्रशंसा की बल्कि इस बच्चे के शिक्षा का पूरा खर्च उठाने का भी ऐलान किया।

यासीन के माँ बाप को किया घर पर आमंत्रित

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि 7 साल का यह बच्चा इरोड जिले का रहने वाला है। दूसरी कक्षा में पढ़ने वाला यासीन जिस वक्त अपने स्कूल जा रहा था उसी दौरान उसे सड़क किनारे या पर्स मिला था जिसमें कि 500 के 100 नोट पड़े थे। यासीन ने सड़क किनारे पड़े पर्स को उठाने के बाद उस पर्स को लेकर स्कूल के डायरेक्टर को सौंप दिया। जिसके बाद स्कूल के डायरेक्टर ने पर्स को पुलिस के हवाले कर दिया। इसके साथ ही साथ उस स्कूल के डायरेक्टर ने उस छोटे बच्चे की ईमानदारी की कहानी भी पुलिसवालों को सुनाई। जिसे सुनने के बाद हर कोई उसकी प्रशंसा किए जा रहा था। इस बच्चे से जुड़ी खबर जब रजनीकांत के पास पहुंची तो रजनीकांत ने इस बच्चे को अपने घर पर आमंत्रित किया।

पढ़ाई लिखाई का उठाएंगे ज़िम्मा

घर पर आमंत्रित करने के बाद बातचीत के दौरान रजनीकांत ने मीडिया वालों से कहा कि आज के जमाने में जहां लोग कुछ पैसों के लिए धोखा दे दिया करते हैं। वही यह छोटा सा बच्चा इतने ज्यादा पैसे पाने के बावजूद इमानदारी पूर्वक उस व्यक्ति को पैसा लौटा दिया जो कि इसका मालिक था। उनके मुताबिक वास्तविक में ईमानदारी एक महान गुण है। रजनीकांत ने इस मुद्दे के ऊपर आगे बोलते हुए कहा कि यासीन जिस स्कूल में इन दिनों पढ़ाई कर रहा हैं वह उस स्कूल को स्पॉन्सर करने के लिए तैयार हैं। इसके साथ ही साथ वह उस बच्चे की आगे की पढ़ाई के पूरे खर्च को उठाने के लिए भी तैयार है। उनके मुताबिक यह बच्चा उन लोगों के लिए प्रेरणा का एक स्रोत है जो कि अपने जीवन में ईमानदारी के बजाय बेईमानी की राह पर चला करते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here