पीठ दर्द की समस्या देखने में किसी आम समस्या की ही तरह लग सकती है, लेकिन इसे दूर करना जरुरी है। पीठ दर्द की समस्या का मुख्य कारण गलत खान पान, अव्यवस्थित जीवनशैली औऱ शारीरिक सरंचना की वजह भी हो सकती हैं। शरीर के मांसपेशियों में अकड़न रहने से दिनचर्या और बिगड़ती जाती है। इसके पीछे कई बार समय पर काम ना पूरा करने का तनाव भी होता है। पीठ के मजबूत रहने के लिए जरुरी है कि आपके मांसपेशियों और पेट का मजबूत रहना जरुरी है। हालांकि पीठ दर्द की समस्या को कम समझकर नजरअंदाज नहीं करना चाहिए।

पीठ दर्द को ठीक करने के लिए नियमित रुप से व्यायाम करना जरुरी है। एक्सरसाइज से ना सिर्फ आपकी कमर सीधी होती है बल्कि पीठ दर्द में आराम भी मिलता है। अगर आप ऑफिस जाते हैं तो आपके लिए पीठ दर्द को ठीक करना औऱ भी ज्यादा जरुरी है क्योंकि कुर्सी पर लगातार एक तरीके से बैठे रहने से पीठ दर्द की समस्या हो जाती है। आपको बताते हैं कैसे ठीक कर सकते हैं आप अपना पीठ दर्द

बार बार खड़े होना

ऑफिस में एकटक बैठकर काम करने से अक्सर मांसपेशियां अकड़ जाती हैं। अगर आप वर्किंग हो तो काम करते समय अपने शरीर की मूवमेंट पर जरुर ध्यान दें। हर एक दो घंटे के बाद कुर्सी से उठ जाए। शरीर की स्थिति में बदलाव लाएं।

ठीक तरीके से झुकें

आपने शायद कभी इस बात पर शायद ध्यान ना दिया हो, लेकिन झुकने के तरीके से भी आपके शरीर पर बुरा असर पड़ सकते हैं। अगर झुकना हो तो सीधे ना झुकें। पहले घुटने नीचे झुकाएं उसके बाद पूरे शरीर को नीचे की तरफ झुकाएं। अगर आप ऐसा नहीं करते हैं तो मांसपेशियों औऱ रीढ़ की हड्डी पर बूरा असर पड़ सकता है।

कुर्सी पर कैसे बैठें

आपके कुर्सी पर टेढ़े मेढ़े तरीके  से बैठने पर भी आपको यह समस्या हो सकती है। कुर्सी पर आराम से बैठें। पीठ को कुर्सी पर सपोर्ट दें। हाथ को भी पूरी तरह से रिलैक्स करके बैठे।

कंप्यूटर पर काम करते वक्त दे ध्यान

अगर लैपटॉप या कंप्यूटर पर काम कर रहे हों तो इन चीजों को अपनी नजर से 90 डिग्री के कोण में रखें। साथ ही माउस भी 90 डिग्री के कोण पर रखें। बहुत ज्यादा लैपटॉप पर झुककर काम करने से पीठ में दर्द भी बढ़ता है और साथ ही नजरों पर भी इसका बुरा असर पड़ता है।

वजन का रखे ख्याल

पीठ दर्द के लिए आपका भारी वजन भी जिम्मेदार होता है। वजन को कम करने की कोशिश करें साथ ही वजनदार चीजों को उठाने से भी बचें। अगर भारी सामान उठाते हैं तो उससे आपको पीठ दर्द  की समस्या हो सकती है। वजनदार चीजों को देखकर ही उठाएं।

स्ट्रेचिंग है जरुरी

स्ट्रेचिंग करते समय भी कुछ बात का ध्यान रखें। आपके हाथ आपकी पीठ की निचली बाजू पर रखे और पीछे करके तब झुके। अगर पहले से पीठ दर्द की समस्या हो तो डॉक्टर की सलाह के बाद ही स्ट्रेचिंग करें।

वॉक करें

चलने की आदत कभी ना छोड़ें। किसी से फोन पर भी बात करनी हो तो फोन करते समय वॉक करें।अगर ऑफिस में किसी से बात करनी हो तो उसके पास जाकर बात करें। बार बार पानी पीने के लिए ही उठें। इसी बहाने चलें।

यह भी पढ़ें:18 के बाद भी बढ़ सकती है हाईट, बस करना है ये काम

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here