हम गए थे उसके घर लाल गुलाब ले कर

ये कहने कि, ‘तू आपन दिल हमरा के देबू का?’

पर उसकी मम्मी ने खोला दरवाजा और हम

घबरा के बोले- ए चाची, दूई रुपया में

गुलाब का फूल लेबू का?

सरदार का सर फट गया.

डॉक्टर- ये कैसे हुआ?

सरदार- मैं ईंट से पत्थर तोड़ रहा था.

एक आदमी ने मुझसे कहा, ‘कभी खोपड़ी का इस्तेमाल भी कर लिया कर’.

सास ने दामाद से फोन पर पूछा- तूफान की क्या खबर है?

दामाद- बस बढ़िया है.

कूलर चला के सो रही है आराम से. बात करवाऊं क्या?

बीवी से परेशान पति बालकनी से कूदने ही वाला था

कि उसकी बीबी ने घर के अन्दर से आवाज दी..

मेरी सहेलियां आई है, आओ आपकी पहचान करा दूं.

पति- हां..हां जान, अभी आया.

औरत- बाबा जी मैं अपने पति से बहुत परेशान हूं. रोज रात को न जाने कहां जाते है और फिर सुबह ही वापिस आते हैं.

बाबा जी- सुंदरी, पहले यह साफ करो कि यह समस्या है या आमंत्रण.

 

आदमी अपने कॉलेज टाइम को याद करते हुए कहने लगा-

आह, वही पुराना कमरा, वही पुराना फर्नीचर, वही पुरानी अलमारी..

रमेश उस आदमी को अलमारी की तरफ बढ़ने से रोकने

ही वाला था कि उस आदमी ने अलमारी का दरवाजा खोल दिया..

अलमारी के भीतर रमेश की गर्लफ्रेंड छिपी हुई थी.

रमेश हडबडा कर बोला- सर ये मेरी कजन है.

इस पर ठण्डी सांस भरते हुए आदमी ने बोला- आह, वही पुराना बहाना!

हमारे देश के सभी बुजुर्गों को समर्पित आज का ज्ञान.

चाय के शौक़ीन लोगों के लिये इस वक़्त सबसे बढ़िया मौसम है.

आप अपने छत पर रखी पानी की टकीं में दूध, चीनी और पत्ती डाल दें.

इसके बाद दिन भर नल से निकाल कर चाय पीते रहें.

(इससे आपके गैस का खर्चा भी बचेगा और बार-बार बर्तन भी नहीं धोना पड़ेगा)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here