जिस प्रकार हर रात के बाद एक नया सवेरा आता है, ठीक उसी प्रकार से हर दुःख के बाद एक ना एक दिन सुख का पल जरुर आता है. रात और दिन निरंतर अपने अपने समय से चलते रहते हैं. भगवान ने भी दिन और रात को काफी सोच समझ कर बनाया होगा. क्यूंकि वह दिन रात बनाने से पहले ही जानता था कि दिन भर मनुष्य अपने काम धंधे में व्यस्त रहेंगे और रात में वह थक कर सो जाएंगे. ऐसे में रात को सोने से हमारी थकान दूर होती है और सुबह उठ कर हमे एक नई और अलग उर्जा का अनुभव होता है. यह उर्जा हमारी दिनचर्या में सुधार लाती है. सुबह की आदतें हमारा जीवन बदलने की ताकत रखती हैं. ऐसे में हम सुबह जो भी काम करते हैं, वह हमारे पूरे दिन को रिफ्लेक्ट करता है. हर सुबह का असर हम पर रात तक रहता है.

 

उदाहरन के लिए यदि आप सुबह घर से खुश ऑफिस जाते हो तो आप घर लौटते समय भी खुश रहेंगे. वही अगर आप सुबह उठ कर चिडचिडे हो रहे हैं तो उसका असर आपका पूरा दिन खराब कर देगा और आप शाम को भी घर मायूस ही लौटोगे. इसलिए सुबह सही और शुभ काम करना हमारे पूरे दिन को बेहतरीन और हमे उर्जावान बना सकता है. ऐसे में आज हम आपको कुछ ऐसे कामों के बारे में बताने जा रहे हैं, जिन्हें आप सुबह उठ कर करने की गलती भूल से भी मत करिएगा, वरना आपको पूरा दिन पछताना पड़ सकता है.

सुबह भूल से भी ना करें ये काम

  • अगर आप रात में सोते समय सुबह का अलार्म लगाते हैं तो यह आपके दिन की शुरुआत आपको टाइम पर करना सिखाता है. ऐसे में अगर सुबह अलार्म बजे तो उसको बंद करके दोबारा ना सोएं. क्यूंकि सुबह अगर आप अलार्म बंद करते हैं तो आपको पहले से भी अधिक गहरी नींद आ सकती है. वह नींद आपको और भी गुमराह कर सकती है और आपके दिन की पूरी रूटीन को खराब कर सकती हैं. अलार्म बंद करके दोबारा सोना मनुष्य की कायरता को दर्शाता है.

  • बहुत से लोग जब सुबह उठते हैं तो उनके दिमाग में बहुत से थॉट चल रहे हैं होते हैं कि कल उनके साथ क्या क्या हुआ या आज उनके साथ क्या होने वाला है. यह सभी बातें हमारे दिमाग पर प्रेशर डालती हैं और हमारा ध्यान भटकाती हैं. ऐसे में सुबह उठ कर आप अपने दिमाग में किसी तरह के ख्याल मत आने दो और अपने उस लम्हे को अच्छे से फील करो ताकि आपका दिमाग और मूड दोनों फ्रेश रहे और आपको किसी प्रकार का तनाव ना रहे.

  • सुबह उठते ही हम इनएक्टिव मोड़ पर होते हैं यानी रात भर हमारा दिमाग शांत स्तिथि में बना रहता है. मगर जब हम बिस्तर से उठ कर तुरंत ब्रश करने लगते हैं तो हमारे दिमाग में कईं प्रकार के तनाव घूमने लगते हैं और हमारे विचार एक्टिव हो जाते हैं जो हमारी रात भर की मिली सारी उर्जा को नष्ट कर देते हैं और दिन भर हमे तनाव में जीने को मजबूर कर देते हैं. ऐसे में सुबह उठ कर आप मैडिटेशन करने की कोशिश करें. मैडिटेशन यानी ध्यान लगाने से आप अपने दिमाग में चल रहे विचारों को अपने कण्ट्रोल में रख सकते हैं और अपना माईंड फ्रेश रखते हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here